कनाडा- एक सिख ने अपने पगड़ी से बचाई में डूबती बच्ची की जान

241

कनाडा- एक सिख ने अपने पगड़ी से बचाई में डूबती बच्ची की जान

कनाडा में एक सिख व्यक्ति ने एक नदी में डूबती एक बच्ची को अपनी पगढ़ी का इस्तेमाल पर बचा लिया. ब्रिटिश कोलंबिया के कम्लूप्स के 65 साल के निवासी अवतार होथी ने किशोरी को बचाने के लिए अपनी पगड़ी खोल दी थी. यह लड़की उनके फार्म के पास नॉर्थ थॉम्पसन नदी के बेहद ठंडे पानी में गिर गई थी.

source- tbi9.in
source- tbi9.in

होथी और उनका बेटा पॉल बीते शनिवार को कम्लूप्स के ठीक उत्तर में स्थित हेफले क्रीक में अपने फार्म में काम कर रहे थे. तभी उन्हें आवाजें सुनाई दी की कोई मदद की मांग रहा हैं. जिसके बाद वे नदी के किनारे पहुंचे तो देखा कि एक किशोरी तेज बहाव में पानी में डूब रही है. होथी के बेटे पॉल ने कहा कि मुझे अपने पिता पर बहुत गर्व है.

सीबीसी न्यूज ने पॉल के हवाले से कहा कि हम आसपास पेड़ की शाखाओं को ढूंढ रहे थे और तभी उन्होंने जल्दी से अपनी पगड़ी उतारी और उसे पानी में फेंक दिया. इसकी मदद से उन्होंने उसे किनारे तक खींच लिया.

उन्होंने कहा कि लड़की 14 से 15 साल की थी. पॉल ने कहा कि वह नहीं जानते कि वह नदी में कैसे गिरी. उन्होंने बताया कि इस समय नदी का पानी बेहद ठंडा होता है. पॉल ने कहा कि जब हमने किशोरी को पानी से बाहर निकाला, वह स्तब्ध थी. उसे बहुत ठंड लग रही थी. हमने जल्दी से उसे कंबल ओढ़ाया ताकि उसे गर्मी मिले.’’ तब पॉल के पिता इस लड़की को उसकी दादी के घर ले गए. उनका घर इनके फार्म से कुछ मिनट की दूरी पर था.

पॉल ने द कनाडियन प्रेस को बताया कि हमने रस्सी के तौर पर पगड़ी का इस्तेमाल इसलिए किया क्योंकि किसी को किनारे तक लाने के लिए यह मजबूत साबित हो सकती थी. सिख लोग अपने बालों को सार्वजनिक रूप से दिखाना ठीक नहीं मानते हैं लेकिन पॉल ने कहा कि यदि जिंदगी और मौत की बात हो तो ये नियम लागू नहीं होते.

इस पोस्ट से जुडी राय आप हमें कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं.

Comments

comments